मोदी के खिलाफ देश मे विपक्ष एकजुट हो रहा, अमेरिका में जयजयकार_*मोदी का मान, भारत का सम्मान*

*_मोदी के खिलाफ देश मे विपक्ष एकजुट हो रहा, अमेरिका में जयजयकार_*
——————————————–
*मोदी का मान, भारत का सम्मान*

एक विशेष प्रस्तुति

आइडियल इंडिया न्यूज़

हरिओम सिंह स्वराज
——————————————–
*_बाइडन ने व्हाइट हाउस के दरवाजे भारतीयों के लिए खोले, हजारों पहुंचे राष्ट्रपति भवन के अंदर_*
——————————————–
*_जिस अमेरिका ने मोदी की इंट्री बेन की थी, वहां 3 दिन से चहुओर मोदी मोदी के शोर_*
——————————————–
_अमेरिकी राष्ट्रपति ने मोदी के सम्मान में ट्रम्प को भी पीछे छोड़ा, तोपो से दी सलामी_
——————————————–
_अमेरिकी संसद को 58 मिनिट सम्बोधित किया, 75 बार बजी तालियां, 15 बार खड़े होकर सांसदों ने किया अभिवादन_
——————————————–
_पटना में आज मोदी से मुकाबले के लिए संयुक्त विपक्ष की आज बिछ रही जाजम_
——————————————–
_*यहां पटना में मोदी को पटखनी देने के लिए आपस मे एक दूजे को पटाने की बिछात बिछाई जा रही है, वहाँ स्वागत सत्कार के लिए रेड कारपेट बिछाया जा रहा हैं। यहां मिशन 2024 के लिए गोलबंदी हो रही हैं, वहां तोप के गोले दागे जा रहे है राजकीय सम्मान में। इधर लोकतंत्र के खतरे में होने का शोर हैं, उधर भारत का लोकतंत्र को सबसे जीवंत बताने का जयघोष हैं। यहाँ मोदी विरोध में देश तक दांव पर लगाने में गुरेज नही, उधर व्हाइट हाउस के दरवाजे भारतीयों के लिए खोले जा रहें हैं। यहाँ आर्थिक मोर्चे पर देश के रसातल में जाने के दावे है, उधर देश को दुनिया की तीसरी आर्थिक ताकत बनाने के इरादे हैं। देश के पंत प्रधान की पहली अमेरिकी राजकीय यात्रा पर कुछ इसी तरह का दृश्य नजर आ रहा हैं। मोदी की इस यात्रा को ख़ुलासा फर्स्ट राजनीति से परे, भारत के सम्मान के रूप में देख रहा। जैसे करोड़ो-करोड़ भारतीय देख रहे हैं।*_

*..देश मे जहा एक तरफ मोदी विरोध के नाम पर संयुक्त विपक्षी गठबंधन की गम्भीर कवायद चल रही हैं, वही सात समंदर पार अमेरिका में मोदी की जयजयकार हो रही हैं। इधर पटना में आज शुक्रवार को मोदी मुखालफत की जाजम बिछाई गई हैं, उधर व्हाइट हाउस में मोदी के स्वागत में गार्ड ऑफ ऑनर दिया जा रहा हैं। इस तरफ लोकतंत्र के खतरे का शोर मचा हुआ हैं, उधर वैश्विक मंच पर भारत के लोकतंत्र को सबसे जीवंत करार दिया जा रहा हैं। इधर महंगाई बेरोजगारी का रुदन है, उधर भारत के दुनिया की 5 वी बड़ी आर्थिक ताकत का गौरवगान गूंज रहा हैं और आने वाले समय मे इसे तीसरी बड़ी आर्थिक महाशक्ति बनाने का सन्कल्प हैं। यहां मोदी विरोध की बयानबाजी का शोर है, उधर तोपो से स्वागत-सलामी की गर्जना गूंज रही हैं। इधर “2024” की चिंताएं पसरी हुई है, उधर वसुधैव कुटुम्बकम के जरिये दुनिया जीतने का मनोरथ हैं।*

3 दिन हो गए, अमेरिका में मोदी मोदी के जयकारे गुंजायमान हैं। राजनीति को परे रखे तो देश के पंत प्रधान नरेंद्र मोदी की पहली अमेरिकी राजकीय यात्रा देश के लिए भी सम्मान का विषय हो गई हैं। मोदी का जिस तरह से मान वहां हुआ और हो रहा है, वह एक तरह से भारत का भी बाहुमान-सम्मान हैं। अमेरिका में मोदी 140 करोड़ भारतीयों के प्रधानमंत्री के रूप में पूजा रहे हैं। रेड कारपेट बिछ रहे हैं। व्हाइट हाउस के दरवाजे खुल रहे हैं। तोपो से सलामी दी जा रही हैं। संसद के सत्र के सम्बोधन हैं और सहभोज की टेबल सज रही हैं। रक्षा सहित विभिन्न क्षेत्रों में परस्पर व्यापार के अनुबंध तय हो रहे हैं।

*मोदी के सम्मान में अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडन ने पूर्व राष्ट्रपति, मोदी के दोस्त ट्रम्प को भी पीछे छोड़ दिया। मोदी के सम्मान में पहली बार अमेरिकी राष्ट्रपति आवास व्हाइट हाउस के दरवाजे आम भारतीयों के लिए खोल दिये गए। हजारों ने पहली बार व्हाइट हाउस में प्रवेश किया और मोदी मोदी के जयघोष से समूचा व्हाइट हाउस गुंजा दिया* । भव्य भोज और आत्मीय अभिनंदन में बाइडन ने कोई कसर नही छोड़ी। वाइल्ड लाइफ के शौकीन मोदी को बाइडन ने वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफी से जुड़ी पुस्तकें भेंट की और साथ मे एक शानदार कैमरा भी। मोदी ने भी बाइडन दम्पति को तोहफ़ों से लगड दिया। उन्होंने श्रीमती बाइडन को सूरत में बना 7.5 कैरेट का ग्रीन लेबग्रोन डायमंड भेंट किया। बाइडन को लंदन में प्रिंट हुई उपनिषद की एक प्रति भेंट की। मैसूर के चंदन से बना आकर्षक गिफ्ट हैम्पर भी दिया। चांदी के गणेशजी और दीपक भी भेंट किये।

*अमेरिकी संसद के सम्बोधन में अमेरिकी सांसदों ने 15 मर्तबा खड़े होकर मोदी का अभिवादन किया। 58 मिनिट के भाषण में 75 बार तालियां बजी। अमेरिकी संसद में दाल ढोकला, खमन से लेकर समोसे तक का जिक्र भी हुआ। ख़ालिस भारतीयता से ओतप्रोत देश के पंत प्रधान का ये अमेरिकी दौरा भले ही देश मे राजनीति के नजरिये से देखा जाए लेकिन ये मानने में किसी को कोई गुरेज नही होना चाहिए कि दुनिया की सबसे बड़ी आर्थिक ताकत अमेरिका ने जिस तरह से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सम्मान किया है, वो अभूतपूर्व होने के साथ साथ बिरला भी हैं। ये नूतन भारत का भी सम्मान हैं।*

Leave a Reply

Your email address will not be published.