एक बार फिर मौसम में होगा परिवर्तन और लौट आएगी ठंड- डॉक्टर दिलीप कुमार सिंह मौसम वैज्ञानिक

एक बार फिर मौसम में होगा परिवर्तन और लौट आएगी ठंड- डॉक्टर दिलीप कुमार सिंह मौसम वैज्ञानिक ज्योतिष शिरोमणि और निदेशक

आइडियल इंडिया न्यूज़

जौनपुर

 

आज दिनांक 15 फरवरी से दिनांक 20 फरवरी तक ठंड तेजी से बढ़ेगी और 16 और 17 फरवरी को तापमान न्यूनतम गिरकर आठ डिग्री सेल्सियस के आसपास आ जाएगा जिससे एक बार फिर से कंपाने वाली ठंड का अनुभव होगा इस प्रकार हमारे केंद्र की एक और महान भविष्यवाणी सही होगी की पूरी फरवरी भर ठंड का मौसम चलता रहेगा और 15 मार्च तक यह ठंड येन केन प्रकारेण चलती रहेगी इसी बीच एक बार फिर से घने कोहरे का दो-तीन दिनों तक असर रहेगा और बादल धीरे-धीरे समाप्त हो जाएंगे 15 फरवरी को सुबह काफी घना कोहरा रहेगा जबकि 16 फरवरी से मौसम साफ होने लगेगा अधिकतम तापमान 23 से लेकर 25 डिग्री सेल्सियस के बीच स्थित रहेगा

*15 फरवरी से लेकर 29 फरवरी तक मौसम लगातार परिवर्तनशील रहेगा और तापमान 25 से 27 डिग्री सेल्सियस होने के बाद भी लगातार कोहरा धुंध बादल और बीच-बीच में हल्की वर्षा होने का पूरा-पूरा योग है इस प्रकार यह मौसम पूरे फरवरी भर चलता रहेगा और 15 सितंबर से शुरू हुई गुलाबी ठंड 15 मार्च को गुलाबी ठंड के साथ ही समाप्त होगी इस प्रकार बहुत लंबे समय के बाद पूरे 6 महीने की ठंड पड़ी है*

 

*15 मार्च के बाद बहुत तेजी से गर्मी बढ़ेगी और तापमान 35 डिग्री सेल्सियस को भी पार कर जाएगा इसी बीच 15 फरवरी से 29 फरवरी तक दक्षिण दक्षिण पश्चिम उत्तर उत्तर पश्चिमी हवाएं बदल बदल कर चलती रहेगी हवा की गति अधिकांश समय 7 किलोमीटर से 15 किलोमीटर प्रति घंटे के बीच रहेगी लेकिन बीच-बीच में 25 से 45 किलोमीटर की रफ्तार भी पार कर सकती हैं वायु गुणवत्ता सूचकांक 100 से 200 के बीच में बना रहेगा जबकि प्रदूषण और गंदगी की मात्रा वायुमंडल में अत्यधिक रहेगी अल्ट्रावायलेट किरणों की तीव्रता सामान्य से माध्यम अर्थात तीन से लेकर 9 के बीच रहेगी*

 

*जहां तक पूरे भारत के मौसम की बात है तो अभी एक सप्ताह तक दक्षिणी भारत उत्तरी पूर्वी भारत में बादलों के साथ वर्षा होगी जबकि लेह लद्दाख जम्मू कश्मीर उत्तराखंड हिमाचल प्रदेश नेपाल भूटान सिक्किम अरुणाचल प्रदेश के ऊंचाई वाले भागों पर तीव्र बर्फबारी होगी इस हिमपात के कारण कई स्थानों का तापमान-25 से -40 डिग्री सेल्सियस हो जाएगा और ठंड और गलन का प्रभाव पंजाब हरियाणा हिमाचल प्रदेश दिल्ली गुजरात के उत्तरी भाग मध्य प्रदेश उत्तर प्रदेश बिहार झारखंड और बंगाल तक पहुंचेगी*

*जहां तक विश्व के मौसम की बात है तो अभी पूरे फरवरी भर अमेरिका यूरोप रूस चीन मंगोलिया कोरिया जापान पाकिस्तान अफगानिस्तान और अरब देशों के कुछ भागों में उत्तरी और दक्षिणी ध्रुव पर लगातार हिमपात होता रहेगा और यहां की जमीन बर्फ से ढकी हुई नजर आएगी यहां की ठंड और भी तेजी से बढ़ेगी और यहां अनेक चक्रवात और बर्फीले तूफानों का सामना करना पड़ेगा यहां के अधिकांश भागों का तापमान 0 से नीचे रहेगा और इन सभी देशों में मौसम बहुत ही खराब रहेगा कहीं कहीं तापमान माइनस 50 से -80 के बीच चल जाएगा ऑस्ट्रेलिया और अफ्रीका में तथा मध्य दक्षिणी अमेरिका में प्रचंड गर्मी उमस और वर्षा का तथा बवंडर और तूफान का मौसम रहेगा जबकि न्यूजीलैंड शांत रहेगा इन 15 दिनों में दुनिया में कुछ परसेंट भूकंप ज्वालामुखी विस्फोट और समुद्री हलचल होने की प्रबल संभावना बन रही है*

*जहां तक अन्य क्षेत्रों के भविष्यवाणी की बात है तो भारत में सामान्य निर्वाचन अप्रैल महीने में होना निश्चित है इस चुनाव में बसपा सपा तृणमूल कांग्रेस आम आदमी पार्टी डीएमके और कांग्रेस की ऐसी भयानक दुर्गति होगी जिसका असर भीषण रहेगा और वैसे भी चुनाव तक उनके तमाम बड़े दिग्गज नेता भाजपा गठबंधन में शामिल हो जाएंगे लालू और उनके बेटों का साम्राज्य डूब जाएगा भारत में अचानक दो नई राजनीतिक पार्टियों का जन्म होगा जिसमें एक अच्छी सफलता पाएगी यूक्रेन और इसराइल अब युद्ध चलता रहेगा*।

*अनेक अरब देशों और यूरोप के देशों में सत्ता परिवर्तन गृह युद्ध भीषण रूप लेगा पाकिस्तान की स्थिति चिंताजनक बनी रहेगी लेकिन मीडिया द्वारा की गई विश्व युद्ध और परमाणु युद्ध की भविष्यवाणी पूरी तरह गलत होगी भारत चीन भारत पाकिस्तान में मिली मर नूरा कुश्ती के तहत कुछ छोटी-मोटी झड़प होगी पूरी दुनिया में महंगाई बेरोजगारी भ्रष्टाचार आतंक वाद हो जाएगी अंतरिक्ष के क्षेत्र में भारत सहित दुनिया के कदम तेजी से आगे बढ़ेंगे

*हमारे अलका शिप्रा वैष्णवी ज्योतिष मौसम पूर्वानुमान और विज्ञान अनुसंधान केंद्र की मार्च 2023 कि वह भविष्यवाणी बिल्कुल सही होगी जिसमें अकेले भाजपा को 315 से 355 सिम और भाजपा गठबंधन को 360 से 415 सीटें मिलने की भविष्यवाणी की गई है ज्ञान विज्ञान टेक्नोलॉजी और अन्य क्षेत्रों में लाभदायक खोज होगी परंतु उसका लाभ सामान्य जनता को नहीं मिलेगा*

*खेलों में अनेक विश्व और ओलंपिक कीर्तिमान बनेंगे जिसमें भारत के खिलाड़ियों का भी कुछ योगदान होगा इस वर्ष पेरिस ओलंपिक तमाम परेशानी के बाद भी भारत के लिए बहुत अच्छा सिद्ध होगा जहां भारत पहली बार पांच स्वर्ण पदक सहित 15 पदक पाने की आशा कर सकता है पूरे विश्व में सनातन धर्म उसके संस्कृति सभ्यता ज्ञान विज्ञान कला कौशल का प्रचार प्रसार तेज हो जाएगा और लोग तेजी से सनातन धर्म की ओर झुक जाएंगे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed